Recognize and Act: Dengue Fever Symptoms and Treatments

0
128
Dengue Fever Symptoms and Treatment
Dengue

डेंगू एक ऐसी जानलेवा बीमारी/ Dengue As Deadly Disease

Dengue Fever Symptoms and Treatments, डेंगू /Dengue Fever एक ऐसी जानलेवा बीमारी है जो एडीस मच्छरों के काटने से होती है। इस बीमारी के लक्षण में तेज बुखार, सिरदर्द, शरीर के जोड़ों में दर्द, कमजोरी, उलझन, और चक्कर आना शामिल हैं। डेंगू बुखार/Dengue Fever के चार प्रकार होते हैं, जो कि विशेष रूप से वायरस के विभिन्न प्रकारों के कारण होते हैं।

इसकी गंभीरता के आधार पर, डेंगू बुखार को डेंगू हेमोरेजिक फीवर और डेंगू शॉक सिंड्रोम में बदल जाने की संभावना होती है, जो कि जीवन के लिए खतरनाक हो सकते हैं। इस बीमारी का कोई विशेष उपचार नहीं होता है, लेकिन समय रहते लक्षणों को पहचान कर और सही चिकित्सा मार्गदर्शन और देखभाल के साथ इसे नियंत्रित किया जा सकता है।

  • जिसकी कोई vaccine नहीं बनी है आज तक
  • जिसके लक्षण 3 से 14 दिन में नज़र आते है 
  • जिसमे खून की कमी के साथ साथ , गिर जाता है प्लेटलेट्स का स्तर 
  • जिसे break bone fever भी कहा जाता है।

Dengue Fever Symptoms and Treatment

Dengue Fever Symptoms and Treatment मानसून के समय कई तरह की बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। डेंगू ऐसी ही एक घातक बीमारी है . WHO की REPORT के मुताबिक हर साल दुनिया भर में 100 -400 MILLION लोग डेंगू की चपेट में आते है। एन्डिस एनोफिलिस मच्छर के काटने के कारण होने वाली इस बीमारी में कई तरह की स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का खतरा बढ़ जाता है, जो गंभीर स्थिति में मृत्यु का कारण भी बन सकती है। Article में हम डेंगू के लक्षण और उससे बचने के एक कारगर घरेलु नुस्खे के बारे में जानेंगे।Dengue Fever

Dengue Fever Symptoms and Treatment
Dengue Fever Symptoms and Treatment

डेंगू को बदनतोड़ बुखार भी कहते हैं। जब यह मच्छर किसी मनुष्य को काटता है तो इसका वायरस SALAIVA के साथ उस मनुष्य के शरीर में प्रवेश कर जाता है और रक्त धमनियों द्वारा पूरे शरीर में फैल जाता है।

यह वायरस BLOOD CELLS को दूषित करने लगता है जिससे खून में प्लेटलेट्स की संख्या कम होने लगती है।एक HEALTHY मनुष्य के शरीर में लगभग 2 से 4 लाख की प्लेटलेट्स संख्या होनी चाहिए लेकिन डेंगू के कारण यह संख्या घटकर 1.5 लाख से भी कम होने लगती है। जिससे व्यक्ति का जीवन भी खतरे में पड़ सकता है।

Dengue Fever
Dengue Fever Symptoms and Treatment

डेंगू से पीड़ित मनुष्य के शरीर में कुछ विशेष लक्षण देखने को मिलते है/Symptoms of Dengue Fever

  • डेंगू की शुरुआत के समय पूरे शरीर में हल्का हल्का दर्द होता है और खास तौर पर आँख , सिर, हाथ-पैर और कमर में काफी दर्द होता है। इसके साथ ही मुँह के TASTE में कमी आ जाती है किसी भी चीज़ का स्वाद नहीं आता है। 
  • दूसरे दिन शरीर में INTOLERABLE दर्द होता है और हल्की ठण्ड लगती है और साथ ही भूख लगना बंद होने लगती है। डेंगू वायरस के खून में फैलने के एक घंटे में ही Joints में दर्द शुरू हो जाता है।
  • डेंगू में शरीर का तापमान 102 से 104 डिग्री तक हो जाता है और जी मिचलाता रहता है इसके साथ ही लीवर में सूजन के कारण खाने के तुरन्त बाद कुछ लोगों को उल्टी जैसा भी लगने लगता है। 
  • डेंगू होने पर कमजोरी महसूस होने लगती है और  कुछ भी काम करने की हिम्मत नहीं पड़ती है। 
  • डेंगू होने पर शरीर में CHICKEN POX के जैसे लाल-लाल दाने दिखाई देने लगते हैं।
  • डेंगू होने पर अगर प्लेटलेट्स की संख्या 30,000 से कम होने लगती है तो रोगी की हालत गंभीर हो जाती है जिस वजह से शरीर के विभिन्न अंगो जैसे- नाक, मंसूड़े व पेशाब में खून आने की संभावना रहती है.

Related Post: Benefits of Ayurvedic Treatment and Why You Should Try kapeefit?

आइये जानते है उस चमतकारी घरेलु नुस्खे को जो प्लेटलेट्स बढ़ाने में अद्भुत भूमिका निभाता है/ Home Remedies of Dengue Fever

डेंगू बुखार के इलाज में, 20 मिलीलीटर गेहूं के ज्वारे का रस, 20 मिलीलीटर गिलोय रस, 20 मिलीलीटर एलोवेरा रस, और 20 मिलीलीटर पपीते के पत्तों का रस मिलाकर सुबह और शाम लेने से प्लेटलेट्स बढ़ाने में फायदा होता है। इसके साथ, दो गिलोयघन वटी सुबह और शाम भोजन के बाद गुनगुने पानी के साथ सेवन करें।

स्वास्थ्य के महत्वपूर्ण पहलुओं और नवीनतम जानकारी को समझने के लिए KAPEEFIT के साथ जुड़े रहें। हम आपको आयुर्वेदिक चिकित्सा, प्राकृतिक उपचार, और लाइफस्टाइल सुझाव के बारे में नवीनतम और सटीक जानकारी प्रदान करेंगे। आपके स्वास्थ्य और कल्याण को बेहतर बनाने में हमारी मदद लें, जिसमें पोषण, व्यायाम, और स्वस्थ जीवन शैली के तरीके शामिल होते हैं। KAPEEFIT के साथ जुड़कर, आप अपनी सेहत के प्रति एक सक्रिय और सकारात्मक कदम उठा रहे हैं।

BOOK ONLINE CONSULTATION

Kapeefit ayurved online consultation

Online Ayurvedic Doctor Consultation

इसके लिए 20 ML गेहूं के ज्वारे का रस , 20 ML गिलोय रस , 20 ML ALOEVERA रस और 20 ML पपीते के पत्तों का रस लेकर , सभी को मिलाकर सुबह और शाम सेवन करने से प्लेटलेट्स बढ़ाने में फायदा मिलेगा। 

साथ ही साथ 2 गिलोयघन वटी सुबह और शाम भोजन के बाद गुनगुने पानी से सेवन करे।

स्वास्थ्य से जुडी नयी नयी जानकारी के लिए KAPEEFIT के साथ जुड़े रहिये।

Dengue Fever Symptoms and Treatment

BOOK ONLINE CONSULTATION

Online Ayurvedic Doctor Consultation

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here