Wednesday, February 21, 2024
spot_img
HomeFitness TipsUnlock Your Potential: Conquer Laziness for Success!

Unlock Your Potential: Conquer Laziness for Success!

आलस्य को जीतकर ही मिलेगी सफलता

Success will come only by conquer laziness.

  • क्या आप दिनभर सुस्त रहते हैं ?
  • क्या आपको शरीर में थकान महसूस होती है ?
  • क्या आप को किसी काम को करते हुए उत्साह की कमी लगती है?
  • क्या आप अपने आज के कार्यों को कल पर टाल देते है ?

Success will come only by conquering laziness अगर इसका जवाब हां है, तो आप आलस्य के शिकार हैं। अगर आप आलस्य से हमेशा के लिए निजात पाना चाहते है तो इस आर्टिकल के साथ अंत तक बने रहे ?Success will come only by conquering laziness

Now Stress Will Be Reduced Easily

Online Ayurvedic Consultation
Source: track2training.com

आलस्य के बारे में जानने से पहले दो श्लोकों का जिक्र आवश्यक है। जिनमे आलस्य के नुक्सान बताये गए है !!

पहला श्लोक है

आलस्यं हिमनुष्याणां शरीरस्थो महारिपुः।

नास्त्युद्यम समोबन्धुः कृत्वायंना वसीदति।।

अर्थात आलस्य से बड़ा शरीर का कोई दुश्मन नहीं है और मेहनत से अच्छा कोई दोस्त नहीं।

और दूसरा श्लोक है

आलसस्य कुतो विद्या, अविद्यस्य कुतो धनम्।

अधनस्य कुतो मित्रम्, अमित्रस्य कुतः सुखम्।।

अर्थात आलसी व्यक्ति के पास विद्या नहीं होती और विद्या के बिना धन अर्जित नहीं किया जा सकता। धन के बिना मित्र नहीं बनता और मित्रों के न होने पर सुख हासिल नहीं होता।

स्पष्ट है कि आलसी होना सबसे खतरनाक और रोग के समान है। इस रोग को शरीर में लगने नहीं देना चाहिए। और अगर हमारा शरीर आलसी हो रहा हो तो जितनी जल्दी  संभव हो इससे निजात हासिल करें। युवा पीढ़ी को तो आलस्य से और भी ज्यादा सावधान रहने की जरूरत है। क्योंकि यह वर्तमान के साथ ही भविष्य को भी अंधकारमय कर देता है। ऐसे में सुखमय भविष्य के लिए इसे आज ही छोड़ना सबसे ज्यादा जरूरी है।आलस्य को जीतकर ही मिलेगी सफलता

Online Ayurvedic Consultation
आलस्य को जीतकर ही मिलेगी सफलता

आलस्य(Laziness) छोड़ने से पहले यह जानना जरूरी है कि आलस्य है क्या…

  • दिनभर सुस्ती या थकान महसूस होना
  • पढ़ते समय नींद का आना।
  • सभी काम मुश्किल लगना।
  • काम को अगले दिन पर टालना।
  • और मानसिक तनाव।

आलस्य होने के कई कारण होते हैं, चलिए उन मुख्य कारणों पर एक नज़र डालते हैं जिनसे आलस्य हो सकता है

  • Negative Thinking  यानि हमेशा नकारात्मक सोचना , 
  • Overeating यानि जरूरत से ज्यादा खाना , 
  • Lack Of Physical Activities यानिशारीरिकश्रमकीकमी , 
  • Disturbed Sleep यानि रात मे देर तक जागना या ठीक से नींद न आना,
  • Irregular routine यानि अनियमित दिनचर्या
  • Weakness यानि कमजोरी , 
  • Stress or Anxiety यानि तनाव व भय या विभिन्न बिमारियों के चलते भी आप आलस्य के शिकार हो सकते है।

अब बात करते है आलस्य को दूर करने के कुछ अचूक और आसान उपायों की :-

-टाइम टेबल बनाकर अपने लक्ष्य के लिए काम को प्राथमिकता देना।

-अपने लक्ष्यों को लिखने की आदत डालना।

-रात में कम से कम छह से सात घंटे की भरपूर नींद।

-संतुलित और पौष्टिक आहार और समय से भोजन लेना।

-नियमित दिनचर्या में शारीरिक व्यायाम या योग को शामिल करना।

-कल पर काम टालने की प्रवृत्ति को छोड़ना।

-नकारात्मक सोच और नकारात्मक बातों से दूर रहना।

-पाजिटिव संगत में रहने की कोशिश करना।

Online Ayurvedic Consultation
आलस्य को जीतकर ही मिलेगी सफलता

आलस्य हमारा ही एक दुश्मन होता है। जिसे हमे अकेले लड़कर हराना होता है। इसलिए हमे आलस्य को दूर करने के लिए Self Motivation की बहुत ज्यादा जरूरत पड़ती है। Self Motivation के दम पर ही हम अपने आलस्य से जीत सकते है !Success will come only by conquering laziness

हमें उम्मीद है इस आर्टिकल की मदद से आपको आलस्य से निजात पाने में मदद मिलेगी। इस आर्टिकल को LIKE करे और अपने VIEWS हमारे साथ COMMENT बॉक्स में SHARE करे। ऐसी ही नयी नयी जानकारी के लिए KAPEEFIT के ब्लॉग को के साथ जुड़े रहें।

आलस्य को जीतकर ही मिलेगी सफलता

Success will come only by conquering laziness

BOOK ONLINE CONSULTATION
Online Ayurvedic Doctor Consultation

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments

Book Online Consultation