Wednesday, February 21, 2024
spot_img
HomeDiseases and TreatmentThyroid Diet Chart Foods to Eat Or Avoid

Thyroid Diet Chart Foods to Eat Or Avoid

Thyroid Diet Chart Foods to Eat Or Avoid

Thyroid में डाइट कैसी लेनी चाहिए ?

  • क्या आपने बहुत सारा WEIGHT put on कर लिया है ?
  • क्या आपका वजन बेवजह घटता जा रहा है ?
  • क्या डाइटिंग या fasting के बाद भी वजन बढ़ रहा है ?

अगर आप भी Thyroid से संबधित समस्यायों से परेशान है तो यह Article आपके लिए है। आज हम इस Article के माध्यम से आपको थाइरोइड से सम्बंधित बहुत से सवालों का जवाब देने का प्रयास करेंगे इसलिए Article के साथ अंत तक बने रहिये। Thyroid Diet Chart


Read MoreIrritable Bowel Syndrome Treatment And Symptoms


Thyroid Diet Chart Foods to Eat Or Avoid Thyroid disorder आजकल की सबसे common लेकिन सबसे ज्यादा ignored स्वास्थय समस्या है क्यूंकि आपको ये बता दिया जाता है कि इसका कोई इलाज नहीं है। बस जिंदगी भर आपको thyroid की tablets लेते रहना है। लेकिन यह सच नहीं है। researches के अनुसार भारत में 42 मिलियन लोगों को थायराइड विकार हैं और हाइपोथायरायडिज्म भारत में थायराइड विकारों में सबसे आम है, जो दस वयस्कों में से एक को प्रभावित करता है।Thyroid Diet Chart Foods to Eat Or Avoid 

अक्सर Thyroid प्रभावित रोगी का यह सवाल होता है कि thyroid के कारण मेरा weight लगातार बढ़ रहा है जबकि कुछ लोगों का weight कम होता है ?

Online Ayurvedic Consultation
Thyroid Diet Chart Foods to Eat Or Avoid

ऐसा इसलिए होता है क्यूंकि Thyroid, प्रमुख तौर पर दो प्रकार का होता है। hypothyroidism और hyperthyroidism. hypothyroidism में thyroid हार्मोन के कम production के कारण metabolism slow हो जाता है। जिस कारण शरीर मे weakness, वजन बढ़ना, मांसपेशियों में दर्द और कमजोरी, महिलाओं में अनियमित पीरियड्स या हैवी पीरियड्स जैसे लक्षण देखे जाते है। जबकि hyperthyroidism में हार्मोन्स के ज्यादा produce होने के कारण metabolism overactive हो जाता है। जिस कारण weight कम होना , abnormal heartbeat ,घबराहट चिंता व चिड़चिड़ापन , हाथ व उंगलियों में कंपन महसूस होना जैसे लक्षण देखने को मिलते है। तो आप अपने symptoms व कुछ ब्लड टेस्ट के basis पर ये पता लगा सकते है कि आपको hypo thyroid है या फिर hyper thyroid.Thyroid Diet

बहुत से लोगों का यह सवाल होता है कि hypothyrodism के साथ weight loss करना possible है या नहीं ?

hypothyrodism के साथ आप weight lose कर सकती है। thyroid एक लाइफस्टाइल disorder है और इस disorder को दूर करने के लिए आपको अपने lifestyle में कुछ ऐसे changes करने होंगे जो आपके weight loss में मदद करेंगे। जैसे sedentary lifestyle को छोड़कर आपको energetic और active lifestyle follow करना होगा इसके अलावा अपनी डाइट और रूटीन में healthy changes लाने होंगे। और अपने दिन का कुछ समय आपको physical workout के लिए देना होगा।Thyroid Diet Chart

बहुत सी ladies का यह question रहता है की मै thyroid के साथ साथ प्रेगनेंसी conceive करना चाहूंगी तो क्या मुझे कोई problems face करनी पड़ सकती हैं ?

Online Ayurvedic Consultation
Thyroid Diet Chart Foods to Eat Or Avoid

तो thyroid के कारण आपका menstrual cycle disturb हो जाता है , जिस वजह से ovulation टाइम पर नहीं हो पता है। और जब ovulation time पर नहीं होता है तो concieve करने में आपको problems face करनी पड़ सकती है। लेकिन अगर आप एक healthy लाइफस्टाइल और डाइट को follow करें, daily workout करें, proper नींद लें और प्रेगनेंसी प्लान करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें तो आपके पीरियड्स रेगुलर हो सकते है और आप easily concieve भी कर सकती है। 

बहुत से लोगों का यह सवाल रहता है की Thyroid के Patient को कितना भोजन करना चाहिए ?

तो आयुर्वेदिक ग्रंथ चरक संहिता के सूत्रस्थान 5 /3 के श्लोक 

मातृशि स्यात। आहारमात्रापुनराणिवलापिक्षिणी। 

के अनुसार मनुष्य को मात्रपूर्वक भोजन करना चाहिए। आहार की मात्रा अग्नि के बल की अपेक्षा करने वाली होती है यानी जितनी भूख हो उतना ही भोजन करना चाहिए।

Thyroid में Diet एक अहम् भूमिका निभाता है और बहुत से लोगों का ये doubt भी होता है Thyroid में कैसी डाइट ले ?

क्यूंकि thyroid डिसऑर्डर एक लाइफस्टाइल डिसऑर्डर है इसलिए दोनों ही तरह के thyroid dysfunction में आपको कुछ फ़ूड आइटम्स completely avoid करने चाहिए। जैसे बिना चोकर का आटा, फ़ास्ट फ़ूड, जंक फ़ूड, canned and processed फ़ूड, चाय कॉफ़ी अल्कोहल आदि। इसमें आपको विशेष रूप से आयोडीन युक्त आहार का ध्यान रखना होगा क्यूंकि hypothyroid में आयोडीन युक्त डाइट की requirement होती है जबकि hyperthyroid में आयोडीन युक्त डाइट से बचना होता है। इसके अलावा hyperthyroid के patient को iodized salt, seafood, Cruciferous vegetables जैसे पत्ता गोभी, फूल गोभी , brocooli , शलजम आदि नहीं लेने चाहिए। ये तो रही बात की आपको कौन से food avoid करने है। अब जानते है कि किन food items को आपको अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए। तो चाहे आप hypothyroid के patient हो या hyperthyroid के दोनों ही केसेस में आप फ्रेश फ्रूट्स , फ्रेश vegetables , चोकर युक्त आटा , brown rice , सलाद , whole grains जैसे oats , quinoa , unsalted nuts ले सकते है। और जैसा की हमने पहले भी बताया आयोडीन युक्त चीज़ों को लेते समय विशेष ध्यान रखना है।

HYPO THYROIDISM  

DOSDONTS
फल सफ़ेद चावल 
हरी सब्जी सफ़ेद चीनी 
आयोडीन युक्त नमक की जगह सेंधा नमक या काला नमकमैदा 
चोकर युक्त आटाबिना चोकर का आटा 
brown rice तला भुना , मसालेदार भोजन 
खजूर बादी भोजन 
गुड़ राजमा छोले 
खीरा मांसाहार 
बैंगनी फल व सब्ज़ी bread , pasta 
natural iodine rich food pizza 
sea foodfast food 
fish junk food 
nutsprocessed food 
seeds (pumpkin seeds, sunflowder seeds)canned food 
सलादचाय कॉफ़ी 
seasonal fruits & vegetables शराब 
दूध दही fatty food 
beans legumessugary foods 
whole grains – oats, brown rice, quinoafrozen food
detox drinks – जीरा, पुदीना, नींबू रस 
healthy oils – extra virgin olive oil , sunflower oil , coconut oil 

HYPER THYROIDISM

DOSDONTS
Non iodized saltचाय कॉफ़ी
Fresh fruitsशराब
Fresh vegetablesIodized salt
Unsalted nutsSea food
Cruciferous vegetables जैसे पत्ता गोभी, फूल गोभी , brocooli , शलजम
Iodine supplements

बहुत से लोगों का ये पूछना होता है की आयुर्वेद में कुछ ऐसे supplements भी है जो thyroid disorder को दूर करने में मदद कर सकते है ?

तो जी हां बिलकुल आयुर्वेद में रोगी की प्रकर्ति और मिलने वाले लक्षणों के आधार पर एंटी ऑक्सिडिएंट्स supplements जैसे nutrela daily active capsule और आयुर्वेदिक औषिधियाँ जैसे thyrogrit , कांचनार घनवटी आदि डॉक्टर से परामर्श के बाद दी जाती है।Thyroid Diet Chart

जैसे आपने अभी तक जाना thyroid disorder होने पर उसका इलाज कोई गोली उम्र भर खाने की जगह 5 बातों को विशेष रूप से ध्यान में रखकर भी किया जा सकता है। जिसमे सबसे पहली बात है जो भी आप डाइट consume करें वो healthy और thyroid friendly होनी चाहिए। दूसरी बात अपनी sedentary lifestyle को छोड़कर एक active lifestyle को adopt करें। जिसमे रोज़ाना कम से कम 30 मिनट exercise जरूर करें। तीसरी बात तनाव बहुत सी बीमारियों का जन्मदाता होता है इसलिए तनाव बिलकुल न लें। चौथी बात अपना sleep pattern ठीक करें। समय से सोना और समय से उठना बहुत सी बीमारियों को आपसे दूर ले जा सकता है। आखिरी और सबसे जरुरी बात जो भी health supplements आप thyroid को दूर करने के लिए ले रहे है वो किसी आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह से ही लें। self medication किसी भी हालत में न करें।Thyroid Diet Chart

स्वास्थ्य से जुडी नयी नयी जानकारी के लिए KAPEEFIT के साथ जुड़े रहिये।

BOOK ONLINE CONSULTATION
Online Ayurvedic Doctor Consultation

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments

Book Online Consultation